You are currently viewing 31 जुलाई तक इनकम टैक्स रिटर्न नहीं भरने पर लगेगा 5000 जुर्माना

31 जुलाई तक इनकम टैक्स रिटर्न नहीं भरने पर लगेगा 5000 जुर्माना

रायपुर। इनकम टैक्स रिटर्न 31 जुलाई तक जमा नहीं करने पर 5000 रुपए तक जुर्माना देना पड़ेगा। निर्धारित अवधि के बाद जुर्माना राशि देने पर ही फाइल जमा होगा। केंद्रीय आयकर विभाग ने 31 मार्च 2024 को समाप्त होने वाले वित्तीय वर्ष के लिए समय निर्धारित किया गया है। सीए रोशन जी ने बताया कि समय से पहले आयकर रिटर्न दाखिल करने से सभी जरूरी दस्तावेज और जानकारी एकत्र करने के लिए पर्याप्त समय मिल जाता है। इससे रिटर्न दाखिल करते समय गलतियां होने की आशंका कम रहती है। जरूरी दस्तावेजों में आधार कार्ड,पैन कार्ड, फॉर्म-16, सैलरी स्लिप, बैंक या डाकघर से मिलने वाला ब्याज प्रमाणपत्र, कर बचत निवेश प्रमाण और स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम रसीदें आदि शामिल है। इनकम टैक्स एक ऐसा डॉक्यूमेंट है, जिसके तहत टैक्सपेयर्स की वित्तीय वर्ष के दौरान इनकम की जानकारी होती है। निर्धारित समय पर रिटर्न देने पर करदाताओं को उनका बकाया रिफंड जल्दी मिल सकता है। बता दें कि 3 लाख रुपए तक किसी भी तरह का शुल्क नहीं है। 5 लाख से कम पर आय पर 1000 रुपए और 5 लाख से अधिक पर रुपये होने पर 5000 रुपए का जुर्माना निर्धारित किया गया है।

राज्य में करीब 11 लाख करदाता करते है रिटर्न फाइल

प्रदेश में करीब 11 लाख करदाता है। वह आयकर विभाग को अपने इनकम की जानकारियों के सहित रिटर्न देते है। नियत तिथि तक रिटर्न दाखिल नहीं करने पर आयकर विभाग नोटिस भेजकर जांच शुरू कर सकता है। इस दौरान पूछताछ में करने पर परेशानियों का सामना और दस्तावेजी साक्क्ष्य पेश करना पड़ सकता है। साथ ही उसे सत्यापित भी करना पड़ेगा। निर्धारित समय से पहले रिटर्न भरने से इसे सत्यापित करने और किसी भी तरह की गलती होने पर उसे सुधारने का पर्याप्त समय मिल जाता है।